Biography of Jaishankar Prasad in Hindi | जयशंकर प्रसाद का जीवन परिचय

जयशंकर प्रसाद का जीवन परिचय

नाम : जयशंकर प्रसाद साहू

जन्म : 1889 ( माघ शुक्ल दशमी, संवत 1946 )

निधन : 15 नवंबर 1973

पिता : देवी प्रसाद साहू

माता : श्रीमती मुन्नी देवी

पितामह: शिवरतन साहू [सुरती बनाने के कारण सूघनी साहू के नाम से विख्यात]

शिक्षा: आठवीं तक। संस्कृत, हिंदी, फारसी, उर्दू की शिक्षा घर पर नियुक्त शिक्षकों द्वारा

विशेष परिस्थिति : बारह वर्ष की अवस्था में पितृविहीन, दो वर्ष बाद माता की भी मृत्यु । परिवार में गृहकलह की स्थिति । ज्येष्ठ भ्राता,शंभु रतन की मृत्यु से संकट की स्थिति उत्पन्न, सभी उत्तरदायित्व प्रसाद जी के कंधों पर।

रचनाएँ : कलाधर उपनाम से ब्रजभाषा में सवैयों की रचना, प्रसाद की प्रेरणा से उनके भांजे अंबिका प्रसाद ने इंदु का प्रकाशन 1909 से प्रारंभ किया, कालक्रम के अनुसार चित्राधार प्रथम संग्रह, जिसमें कविता, कहानी, नाटक आदि रचनाएँ संकलित । काव्य संकलन : झरना (1918), आँसू (1925), लहर (1933), अतुकांत रचनाएँ : महाराणा का महत्त्व, करुणालय, प्रेम पथिक । प्रबंध काव्य : कामायनी (1936) नाटक : कल्याणी परिणय (1912), प्रायश्चित (1914), राग्यश्री (1915), विशाख (1929), कामना (1927) जन्मेजय का नागयज्ञ (1926), स्कंदगुप्त (1926), एक घुट (1928), चंद्रगुप्त (1931), ध्रुवस्वामिनी (1933)। कथा संग्रह : छाया (1912), प्रतिध्वनि (1931), इंद्रजाल (1936) ।
उपन्यास : कंकाल (1929), तितली (1934), इरावती (अपूर्ण, 1940) ।

Biography of Jaishankar Prasad in Hindi

आधुनिक हिंदी की स्वच्छंद काव्यधारा के अंतर्गत छायावादी काव्य प्रवाह के प्रवर्तकों में जयशंकर प्रसाद वरिष्ठ थे । ‘छायावाद’ हिंदी की आधुनिक कविता में स्वच्छंदतावाद के ही एक विशिष्ट रूप को कहते हैं । इस विशिष्ट भावधारा में व्यक्तिचेतना, स्वानुभूति, प्रकृति-साहचर्य, उन्मुक्त प्रेम, कल्पनाशीलता, स्वातंत्र्यभावना आदि नवीन भावों की उत्कट चेतना थी और अभिव्यक्ति पद्धति में लाक्षणिकता, चित्रात्मकता, अमूर्तन, रहस्यात्मकता, दार्शनिकता, सांगीतिकता आदि का आग्रह था ।

छायावादी काव्यभाषा भी अभिव्यक्ति के अनुरूप तत्सम प्रधान, संस्कृतनिष्ठ और नबीन थी काव्यभाषा और अभिव्यक्ति पद्धति में परंपरा के जर्जर, विगलित रूपों तथा रूढ़ियों का निषेध तथा एक ऐसी सर्जनात्मक मौलिकता थी जिसमें बहुविध नवाचार झलकते थे । वास्तव में छायावाद की काव्यभाषा और अभिव्यक्ति पद्धति में परंपरा का पूर्ण निषेध न होकर जैसे उसका पुनर्जन्म था, उसमें परंपरा की नवीन स्मृति थी । जयशंकर प्रसाद का साहित्य इन तथ्यों का प्रामाणिक साक्ष्य प्रस्तुत करता है।

 

मेरा नाम MUKUL है और इस Blog पर हर दिन नयी पोस्ट अपडेट करता हूँ। उमीद करता हूँ आपको मेरे द्वार लिखी गयी पोस्ट पसंद आयेगी।

Related Posts

Raghuvir Sahay Biography Hindi | रघुवीर सहाय की जीवनी

नाम : रघुवीर सहाय जन्म : 9 दिसंबर 1929 निधन : 30 दिसंबर 1990 जन्म-स्थान : लखनऊ, उत्तरप्रदेश पिता : हरदेव सहाय (एक शिक्षक) शिक्षा : एम०…

Biography of Malik Muhammad Jayasi | मलिक मुहम्मद जायसी का जीवन परिचय

मलिक मुहम्मद जायसी का जीवन परिचय :- जयंती , मलिक मुहम्मद जायसी जीवनी, इतिहास ,कहानी ,कविताये ,पिता ,पुरस्कार , विशिष्ट अभिरुचि,  ( Biography of Malik Muhammad Jayasi…

Shamsher Bahadur Singh Biography Hindi | शमशेर बहादुर सिंह जीवनी

नाम : शमशेर बहादुर सिंह जन्म : 13 जनवरी 1911 निधन : 1993 जन्म-स्थान : देहरादून, उत्तराखंड । माता-पिता : प्रभुदेई एवं तारीफ सिंह (कलेक्ट्रिएट में रीडर…

Surdas Biography in Hindi | सूरदास का जीवन परिचय और रचनाएँ

सूरदास का जीवन परिचय :- जयंती ,सूरदास का जीवनी ,इतिहास ,कहानी ,कविताये ,वाइफ ,पुरस्कार , कृतियाँ, अभिरुचि ,   (Surdas Biography in Hindi , history , Age, poems…

Bhagat Singh Biography in Hindi

Bhagat Singh Biography in Hindi | शहीदे आज़म भगत सिंह की जीवनी

Bhagat Singh Biography in Hindi, जयंती , शहीदे आज़म भगत सिंह की जीवनी ,इतिहास ,कहानी ,कविताये ,माता-पिता , विशिष्ट अभिरुचि, परिवार (Bhagat Singh Biography in Hindi, history ,Age,…

Jay Prakash Narayan Biography Hindi

Jay Prakash Narayan Biography Hindi | जयप्रकाश नारायण का जीवन परिचय

Jay Prakash Narayan Biography Hindi नाम :- जयप्रकाश नारायण जन्म :- 11 अक्टूबर 1902 निधन :- 8 अक्टूबर 1979 जन्म-स्थान :- सिताब दियारा गाँव (उत्तर प्रदेश के बलिया…