Good Morning Shayari for Love in Hindi | गुड मोर्निंग शायरी 2022

ताज़ी हवा फूलों की ख़ुश्बू महका रही है,
सुबह की रोशनी के साथ चिड़िया चहचहा रही हैं,
आँखें खोल कर तुम भी ले लो ये नज़ारे,
उठाने तुम्हे खुद जहां की सारी खुशियां आ रही हैं।
गुड मॉर्निंग।

 

सुबह-सवेरे सूरज का साथ है,
चहकते हुए पंछियों की मधुर आवाज है,
हाथ में चाय का प्याला और यादों में कोई ख़ास है,
गुज़रेगा मेरा दिन यह खुशनुमां क्योंकि इसकी
पहली याद आप हैं. गुड मॉर्निंग मेरे दोस्त

 

मुस्कराहट तुम्हारे लबों से कभी छूट ना पाए,
ख़ुदा करे आँसू कभी आँखों में तुम्हारी ना आये,
हो मुकम्मल हर ख्वाब तुम्हारा,
ज़िन्दगी तुम्हारी खुशिओं से भर जाए।

 

हर दिन नयी सुबह से शुरूआत होती है,
अगर हो जाये किसी अपने से बात तो बहुत
ख़ास होती है, कोई अगर मुस्कुराहट के साथ गुड
मॉर्निंग बोल दे, तो पूरा दिन खुशियों
की बरसात होती है।

 

फूलों की महक केवल की दिशा में फैलती है,
परन्तु तुम्हारे जैसे अच्छे इंसान की अच्छाई चारों
ओर फैलती है आपका दिन प्यारा हो।

 

सुबह हुयी हवाओं में खुशबु महकी,
प्यारी सी सुबह कर रही है तुम्हारा इंतज़ार,
अब तो जाग जाओ और खोल दो आँखें,
हमारा एस.एम.एस. ले कर आया है ढेर सारा प्यार।

 

सुबह होते ही जब दुनिया आबाद होती है,
आँख खुलते ही दिल में आपकी याद होती है,
खुशियों के फूल हों आपके आँचल में,
ये मेरे होंठों पे पहली फ़रियाद होती है।

 

आपकी नयी सुबह इतनी सुहानी हो जाये,
दुखों की सारी बातें आपकी पुरानी हो जायें,
दे जाये इतनी खुशियां यह नया दिन,
कि ख़ुशी भी आपकी दीवानी हो जाये।

 

जितनी खूबसूरत ये गुलाबी सुबह है,
उतना ही खूबसूरत आपका हर पल हो,
जितनी भी खुशियाँ आज आपके पास हैं,
उससे भी अधिक आने वाले कल हो।

 

गुज़र गई रात खिल गया है नया सवेरा,
हवाओं में फ़ैल रहा फूलों की खुशबुओं का बसेरा,
गगन में चमक रहा सूरज का चेहरा,
हो मुबारक़ तुम्हे यह महकता सवेरा।
गुड मॉर्निंग..

 

फिर सुबह एक नई रोशन हुई,
फिर उम्मीदें नींद से झांकती मिली,
वक़्त का पंछी घरोंदे से उड़ा,
अब कहाँ ले जाए तूफाँ क्या पता। सुप्रभात

 

खिलखिलाती सुबह, ताज़गी से भरा सवेरा है,
फूलों और बहारों ने आपके लिए रंग बिखेरा है,
सुबह कह रही है जाग जाओ अब नींद से,
आपकी मुस्कुराहट के बिना तो सब अधूरा है।

 

आई है सुबह वो रोशनी लेके,
जैसे नए जोश की नयी किरण चमके,
विश्वास की लौ सदा जला के रखना,
देगी अंधेरों में रास्ता आपको दीया बनके।
शुभ प्रभात

 

सपनो के जहाँ से अब लौट आओ,
हुई है सुबह अब जाग जाओ,
चांद–तारों को अब कह कर अलविदा,
इस नए दिन की खुशियों मे खो जाओ।
शुभ प्रभात दोस्तों..

 

नफरतों से भरी इस दुनिया में कोई है जो मेरी
खुशियों की फ़िक्र करता है, उनकी हर तमन्ना पूरी करे,
जो अपनी प्रार्थना में भी मेरा ज़िक्र करता है।

 

रहे सलामत ज़िंदगी उनकी,
जो मेरी ख़ुशी की फरियाद करते हैं,
ऐ खुदा उनकी ज़िंदगी खुशियों से भर दे,
जो मुझे याद करने के लिए अपना एक
पल बर्बाद करते हैं।

 

बनकर खुशबू हम तेरी यादों में रहेंगे,
बनकर लहू तेरी हर नस में बहेंगे,
चाहे जितने भी दूर हम क्यों ना रहे,
हर सुबह सबसे पहली हम गुड मॉर्निंग कहेंगे।

 

बीत गयी तारों वाली हसीन रात,
याद आ गयी फिर वही प्यारी सी एक बात,
ख़ुशी से हर दिन आपकी मुलाक़ात होती रहे,
हर सुबह खुशियों से आपकी मुलाक़ात होती रहे।

 

आशाएं ऐसी हों जो मंज़िल तक ले जाएं,
मंज़िल ऐसी हो जो जीवन जीना सिखा दे,
जीवन ऐसा हो जो रिश्तों की कदर करे, और
रिश्ते ऐसे हों जो याद करने को मज़बूर कर दें।

 

आज फिर एक नयी सुबह आई है,
साथ अपने एक नयी उम्मीद लाई है,
है असर तुम्हारी याद का ऐसा कि हवाएं भी
अपने साथ तुम्हारी परछाई लाई है। गुड मॉर्निंग।

 

तेरे गमों को तेरी ख़ुशी कर दे,
हर सुबह तेरी दुनिया में रौशनी भर दे,
जब भी टूटने लगें तेरी साँसे,
खुदा तुझमें शामिल मेरी जिंदगी कर दे।

 

ख़ुशी से दिल को आबाद करना,
ग़म को दिल से आज़ाद करना,
बस इतनी गुज़ारिश है आपसे कि,
हो सके तो कभी हमें भी याद जरुर करना।

 

कुछ लम्हों की ज़िन्दगी है,
ज़ी लो इसे खुशनसीबों के जैसा,
महकते रहो सदा फूलों के जैसा,
अगर बिखरो तो बिखरो खुशबू के जैसा।
शुभ प्रभात..

 

ख़ुदा से क्या मांगू तेरे वास्ते,
सदा ख़ुशियाँ हो तेरे रास्ते,
हँसी तेरे चेहरे पे रहे इस तरह,
खुश्बू फूलों का साथ निभाती है जिस तरह।

 

रात गुज़री फिर महकती सुबह है आई,
दिल धड़का फिर आपकी याद है आई,
आँखों ने महसूस किया है उस हवा को,
जो आपको छू कर है हमारे पास आई।