Best 150+ Motivation Line in Hindi | मोटिवेशन लाइन इन हिंदी

Best Motivation Line in Hindi | मोटिवेशन लाइन इन हिंदी | Motivational Quotes In Hindi | मोटिवेशनल कोट्स हिंदी में | Motivational Shayari in Hindi | मोटिवेशन लाइन हिंदी में  | मोटिवेशनल लाइन शायरी .

Motivation Line in Hindi

हार जाना गलत नहीं है लेकिन
हार मान लेना गलत है।
क्योंकि
पूर्ण-विराम का मतलब अंत ही नहीं होता
बल्कि एक नये वाक्य की शुरुआत भी होता है ।

 

 

असफलता एक चुनौती है

इसे स्वीकार करो
क्या कमी रह गयी देखो
और
खुद में सुधार करो

जब तक सफल ना हो
नींद – चैन को त्याग दो
संघर्ष का मैदान छोड़कर मत भागो।

 

 

सुलझा हुआ इंसान वह है
जो अपने जीवन के निर्णय स्वयं लेता है

और

उन निर्णयों के परिणामो के लिए
किसी दूसरे को दोष नहीं देता

 

 

बहुत खुश किस्मत होते है वे लोग जिन्हें…
“समय” और “समझ” एक साथ मिलती है,
क्योंकि…
अक्सर “समय” पर “समझ” नहीं आती…
और…
जब “समझ” आती है
तो “समय” हाथ से निकल जाता है..!!!

 

 

इच्छा पूरी नहीं होती तो क्रोध बढ़ता है,
और इच्छा पूरी होती है तो लोभ बढ़ता है।

इसलिये जीवन की हर स्थिति में
धैर्य बनाये रखना ही श्रेष्ठता है…!!

 

 

सपनों का आकार मायने नहीं रखता

मायने रखते हैं
आपकी मंशा
आपका दृढविश्वास
आपका जीतने का प्रयास

इसलिए छोटे बड़े सब सपने देखा करो
मगर साथ में उन्हें
पूरा करने का जज्बा भी रखो ।

 

 

समय जिसका साथ देता है…
वो बड़ों बड़ों को मात देता है…
🌟
आमिर के घर पर बैठा हुआ…
कौवा भी सबको मोर लगता है…!
और,
गरीब का भूखा बच्चा भी…
सबको चोर लगता है…!
🌟
इंसान की अच्छाई पर सब खामोश रहते हैं…
चर्चा अगर आपकी बुराई पर हो…
तो गूंगे भी बोल पड़ते हैं…!

 

 

२ अक्षर ka शब्द hai ” लक ”
२.५ अक्षर ka शब्द hai ” भाग्य ”
३ अक्षर ka शब्द hai ” नसीब ”
३.५ अक्षर ka शब्द hai ” किस्मत “

लेकिन ये charo ke charo

४ अक्षर ke शब्द ” मेहनत ” ke सामने
fikke पद गये…!!!

 

 

पत्थर तब तक “सलामत” है
जब तक वो “पर्वत” से जुड़ा है

पत्ता तब तक “सलामत” है
जब तक वो “पेड़” से जुड़ा है

इंसान तब तक “सलामत” है
जब तक वो “परिवार”से जुड़ा है

क्योंकि,
परिवार से अलग होके, आज़ादी
तो मिल जाती है
लेकिन “संस्कार” चले जाते ह

मन में संतोष होना स्वर्ग की प्राप्ति से भी बढ़कर है,
संतोष ही सबसे बड़ा सुख हैं।

संतोष यदि मन में भली-भांति प्रतिष्ठित हो जाए
तो उससे बढ़कर संसार में कुछ भी नहीं है ।

 

 

चाहे अपनों के लिए
संसार से लड़ लेना
मगर
कभी भी संसार की बातों में आकर
अपनों से मत लड़ना

संसार कभी साथ नहीं देता
साथ हमेशा अपने देते हैं

दिलों में अगर फर्क आ जाये
तो रिश्ते निभाये नहीं जाते घसीटें जातें हैं ।

 

 

जब कोई धोखा दे जाए,
तो शांत रहिये,
क्योंकि जिन्हें हम जवाब नहीं देते हैं,
उन्हें वक़्त अपने आप जवाब देता है…!

और

अगर आपका नसीब अच्छा हुआ तो
वक़्त द्वारा दिए गए कठोर जवाब के
आप खुद साक्षी भी बनोगे…!

 

 

धूप कितनी भी तेज हो…
समुन्दर सूखा नही पड़ सकता,

उसी तरह उमीदों का सागर…
किसी एक हार से खाली नही हो सकता !

 

 

कैसे खिलेंगे रिश्तों के फूल,
अगर ढूंढते रहेंगे एक-दूसरे की भूल..

जिंदगी में कुछ खोना पडे तो
यह दो लाईन याद रखना!

जो खोया उसका गम नहीं,

पर जो पाया है वह किसी से कम नहीं,
जो नहीं है वह एक ख्वाब है,
पर जो आप को मिला है वह लाजवाब है।

 

 

 

 

 

“निंदा” से घबराकर
अपने “लक्ष्य” को ना छोड़े

क्योंकि..

“लक्ष्य” मिलते ही निंदा करने वालों की
“राय”बदल जाती है।

 

है खुदा,

सुख देना तो बस इतना देना की
जिससे अहंकार ना आए…

और

दुख देना तो बस इतना की
जिससे आस्था ना खो जाए…

 

 

दुनिया में हज़ार रिश्ते बनाओ,
लेकिन एक रिश्ता ऐसा बनाओ की…

जब वो हज़ारों तुम्हारे खिलाफ हों,
वो एक तुम्हारे साथ हो…

 

 

प्रशंसा चाहे कितनी भी करो
किंतु
अपमान बहुत ही
सोच समझकर करना चाहिए

क्योंकि

अपमान वह ऋण है,
जो हर कोई अवसर मिलने पर
ब्याज सहित जरूर चुकाता है।

 

 

अगर ‘ ऊपर वाले ‘ के साथ आपके
सम्बन्ध मजबूत हैं

तो ‘ धरती वाले ‘ आपका कुछ नहीं
बिगाड़ सकते हैं

परमात्मा की तस्वीर लगाओ मन
के अपने ” कक्ष ” में

फ़िर सारे फै़सले आएंगे देखते ही
आपके ” पक्ष ” में

आप सिगरेट को नहीं…
सिगरेट आपको पीती है
इसका नतीजा आप जानते है..!

खुद को अपनी नजरों में गिरा दिया,
जिसने इस खूबसूरत जिन्दगी
को धुएँ में उड़ा दिया..!

🌟 विश्व तंबाकू निषेध दिवस 🌟

 

पुराने लोग भावुक थे,
तब वो संबंध को संभालते थे।

बाद मे लोग प्रैक्टिकल हो गये।
तब वो संबंध का फायदा
उठाने लग गए

अब तो लोग प्रोफेशनल हो गए।
फायदा अगर है तो ही
संबंध बनाते है।

 

 

किसी को खुश करने का मौका
मिले तो खुदगर्ज़ ना बन जाना

बड़े नसीब वाले होते हैं वो जो दे
पाते हैं मुस्कान किसी चेहरे पर

दूध का सार है मलाई में और
जिंदगी का सार है “भलाई” में

न जाने कौन सी शोहरत पर
आदमी को नाज है,

जबकि आखरी सफर के लिए भी
आदमी औरों का मोहताज है ।

 

 

आगे बढ़ने वाला व्यक्ति कभी भी
किसी को बाधा नहीं पहुंचाता
और
दूसरों को बाधा पहुंचाने वाला
व्यक्ति कभी आगे नहीं बढ़ता

कोई यदि आपके अच्छे कार्य पर
सन्देह करता है तो करने देना
क्योंकि

शक़, सदा सोने की शुद्धता पर
किया जाता है
कोयले की कालिख पर नहीं

इच्छाओं का भी अपना चरित्र
होता है खुद के “मन” की हो तो
बहुत अच्छी लगती हैं

दूसरों के मन की हो तो बहुत
खटकती है

जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए
मौसम नहीं मन चाहिए,

हर राह आसान हो जायेगी बस
उसके लिए दृढ़-संकल्प चाहिये!

Mukul Dev

मेरा नाम MUKUL है और इस Blog पर हर दिन नयी पोस्ट अपडेट करता हूँ। उमीद करता हूँ आपको मेरे द्वार लिखी गयी पोस्ट पसंद आयेगी।