बैंकिंग ट्रांजैक्शन फेल होने पर क्या करे | Transaction Fail Hone Par Kya Kare

ट्रांजैक्शन फेल होना असामान्य नहीं है कई कारणों से ट्रांजैक्शन फेल हो सकता है, जैसे बैंक का सर्वर फेल होने पर भी ट्रांजैक्शन फेल हो जाता है, कस्टमर किसी एटीएम से पैसा निकलने जाता है और उसका पैसा कट जाते है लेकिन पैसा निकलते नहीं है ये सब समस्याए बैंक सर्वर के तरफ से होता है कभी कभी कस्टमर को कनेक्टविटी या नेटवर्क अच्छा से नहीं मिलने से भी येसा होता है हालांकि आपको एसे हालात में मुआवजे मांगने के आधिकार है. यहाँ उन सारे आधिकारो के बारे में बताया जा रहा है जो आपको पता होना चाहिए .

RBI ने तय किया है समय

ट्रांजैक्शन में विफलता के बहुत मामले सामने आ रहे है, आपके खाते से पैसा डेबिट होता है पर वापस आता नहीं है इसी मामलो को देखते हुए आरबीआई ने ट्रांजेक्शन फेल होने पर 20 सितंबर 2019 से एक नियम लागू किया है. जिसके जरिए बैंक में शिकायत दर्ज होने के 7 दिन में बैंक पैसे वापस कर देता है. चाहे वो पैसा डिजिटल लेन देन से कटा हो या एटीएम से.

पेनाल्टी

बहुत बार देखा गया है की पैसा कटने या ट्रांजैक्शन फेल होने के बाद तुरंत पैसा कस्टमर के बैंक खाते में वापस आ जाते है. वही कभी कभी पैसा वापस नहीं आता है तो कस्टमर को बैंक में सिकायत दर्ज करनी पड़ती है. यदि बैंक या कोई अन्य वितीय संस्था RBI द्वारा तय समयसीमा में ट्रांजैक्शन रिवर्स करने में विफल रहता है तो कस्टमर मुआवजे की मांग कर सकता है, और बैंक को आपको 100 रूपये प्रति दिन के हिसाब से जुर्माना देना पड़ सकता है.

एटीएम ट्रांजैक्शन

यदि आपका एटीएम ट्रांजैक्शन फेल होता है और आपका बैंक एक तय समय अवधी के भीतर आपके खाते से डेबिट किये गए पैसे को वापस आपके बैंक खाता में नहीं कर पाता है तो बैंक को इसकी भरपाई करनी होगी.

टाइमलाइन : गलत ट्रांजैक्शन को 5 वर्किंग डेस में वापस कर देना चाहिए, अगर बैंक एसा नहीं करता है तो उसे जुरमाना देना होगा.

कार्ड लेनदेन

कार्ड टू कार्ड ट्रान्सफर करते समय अगर आपके खाते से पैसा डेबिट यानि कट जाती है, लेकिन लाभार्थी के खाते में डिपाजिट यानि जमा नहीं होती है तो बैंक को मुआवजा देना होगा.

टाइमलाइन: ऑटो रिवर्सल दो कार्य दिवसों के भीतर हो जाना चाहिए नहीं तो बैंक को मुआवजा देना पड़ सकता है.

मर्चेंट स्टोर

मर्चेंट स्टोर पर प्वाइंट ऑफ़ सेल टर्मिनल में कार्ड यूज करने पर अगर आपके कार्ड से पैसा कट जाते है और उसका कन्फर्मेशन न हो तो बैंक को काटा हुआ पैसा रिवर्स करना होगा।

टाइम लाइन: अगले पांच कार्य दिवसों के भीतर कार्डधारी के खाते में बैंक को कटे हुए पैसे को वापस करना चाहिए।

 

ऑनलाइन लेनदेन 

यदि कोई ग्राहक इमीडिएट पेमेंट सिस्टम (IMPS) या UPI या NEFT या RTGS से पैसे भेजता है लेकिन किसी कारण से वह पैसा लाभार्थी को प्राप्त नहीं होता है तो आप बैंक से मुआवजे की मांग कर सकते है।

टाइम लाइन: एसे मामले में रिवर्सल दो कार्य दिवसों के भीतर होना चाहिए अगर व्यापारी की दुकान पर UPI भुगतान किया गया था तो छह दिनों के भीतर सेटेलमेंट होना चाहिए, जिसके बाद ग्राहक को मुआवजे मिल सकते है।

 

पेमेंट वाँलेट 

अगर कोई ग्राहक पैसे भेजता है लेकिन लाभार्थी उसे प्राप्त नहीं करता है तो मुआवजे देने दिया जाना चाहिए दो कार्य दिवसों के भीतर सेटलमेंट होना चाहिए

तू दोस्तों कैसी लगी यह जानकारी, मुझे उम्मीद है यह पोस्ट आपको अच्छी लगी होगी, अगर सच में अच्छी लगी तो शेयर जरूर करें और कमेंट करके मुझे जरूर बताएं।

मेरा नाम MUKUL है और इस Blog पर हर दिन नयी पोस्ट अपडेट करता हूँ। उमीद करता हूँ आपको मेरे द्वार लिखी गयी पोस्ट पसंद आयेगी।

Related Posts

CoinDCX App क्या है? CoinDCX से पैसा कैसे कमाए

दोस्तों आज का यह पोस्ट बहुत ही शानदार होने वाला है| ये पोस्ट उन लोगो के लिए है जो इन्टरनेट पर पैसा कमाने के तरीके को खोजते…

Refer and Earn App In Hindi | Refer करके पैसे कैसे कमाए

दोस्तों आपने refer and earn के बारे में तो ज़रूर सुना होगा। इससे हमलोग  अच्छा पैसा  कमा सकते हैं।  हमलोग जीतने  भी  एप्लीकेशन  इस्तेमाल  करते हैं  सबमें …

Angel Broking App क्या है? Angel Broking से पैसे कैसे कमाए?

हेल्लो दोस्तों कैसे है आप लोग उम्मीद करते है अच्छे होंगे| दुनिया में हर कोइ बिना कोई मेहनत किये हुए पैसा कमाना चाहते है ये पोस्ट उनलोगों…

Trinkerr App क्या है? Trinkerr App से पैसा कैसे कमाए

तो दोस्तों कैसे है आप लोग उम्मीद करते है अच्छे होंगे, आज आपलोगों को Trinkerr App क्या है? और Trinkerr App से पैसे कैसे कमाया का सकता…

Increase your Money in Hindi | अपना रखा हुआ पैसा कैसे बढ़ाए

बजट का मतलब यह तय करना है कि आप अपना सारा पैसा कैसे खर्च करेंगे। मतलब आपके जरूरी काम और आर्थिक प्रगति की समीक्षा से है। जब…

Passive Income Ideas in Hindi | सोते समय भी पैसे कैसे कमाए?

पैसिव इनकम क्या है? पैसिव इनकम नियोक्ता या ठेकेदार के अलावा किसी अन्य स्रोत से नियमित आय है। आप पहले से बहुत मेहनत करते हैं और लंबे…